MS PowerPoint in Hindi:- अगर आप भी जानना चाहते हैं की एम एस पॉवरपॉइंट (MS PowerPoint in Hindi) के बारे में वो भी हिंदी में तो आप बिलकुल सही वेबसाइट पे आए हैं यहाँ आपको मैं पूरी जानकारी मिलेगी की एम एस पॉवरपॉइंट क्या है (What is MS PowerPoint in Hindi) और आप इसे कैसे इस्तेमाल कर सकते हैं वो भी संछेप में।

MS PowerPoint in Hindi 

एम एस पॉवरपॉइंट क्या हैं? (MS PowerPoint in Hindi)

किसी प्रोजेक्ट का निर्माण करते समय कई बार विभिन्न कार्यों को समझाने के लिये कागजी कार्य पर्याप्त नहीं होता हैं। जैसे मान लीजिए कि आप कम्प्यूटर के द्वारा किसी कम्पनी में किसी प्रोजेक्ट के विभिन्न स्तरों के बारे में समझाना चाहते हैं,

तो आप इस कार्य के लिये विजुअल प्रदर्शन (Visual Presentation) का प्रयोग कर सकते हैं माइक्रोसॉफ्ट पॉवरपॉइंट (Microsoft Powerpoint) या माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस पॉवरपॉइंट एक विजुअल प्रेजेंटेशन (Visual Presentation) एप्लीकेशन प्रोग्राम है,

जिसका प्रयोग विजुअल प्रेजेंटेशन का निर्माण करने के लिये किया जाता है। पॉवरपॉइंट का सर्वाधिक प्रयोग वे विद्यार्थी, शोधकर्ता, प्रशिक्षक आदि करते हैं, जो अपने कार्य को एक प्रेजेंटेशन के रूप में प्रदर्शित करना चाहते हैं।

वास्तव में पॉवरपॉइंट का विकास कैलिफोर्निया (California) की कम्पनी फोरथॉट इंक (Forethought Inc.) में कार्यरत रॉबर्ट गैस्किन्स (Robert Gaskins) तथा डेनिस ऑस्टिन (Dennis Austin) द्वारा प्रेजेंटेशन नाम से किया गया था

बाद में इसे पॉवरपॉइंट नाम दिया गया तथा सन् 1987 में फोरथॉट तथा पॉवरपॉइंट को माइक्रोसॉफ्ट द्वारा खरीद लिया गया तथा इसमें उपयुक्त संशोधन करके पावरपॉइंट को सन् 1990 में विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम के लिये एम एस पॉवरपॉइंट 2.0 के नाम से रिलीज किया गया।

एम एस पॉवरपॉइंट का नवीनतम संस्करण एम एस ऑफिस 2010 है, जिसे 2010 एम एस ऑफिस सिस्टम में सम्मित्तित किया गया है।

Features of MS Powerpoint in Hindi

नया इंटरफेस (New Interface): पॉवरपॉइंट 2007 में नया इंटरफेस प्रदान किया गया है, जिसका प्रयोग करना अधिक सरल है। एम एस ऑफिस 2007 के अन्य प्रोग्राम्स की तरह पॉवरपॉइंट में भी मेन्यू के स्थान पर रिबन का प्रयोग किया गया है,

जिसमें Home, Insert, Design, Animation, Slide Show, Review 79 View कमांड टैब सम्मिलित है। इनके अतिरिक्त कुछ विशेष फंक्शन्स को सहायता प्रदान करने के लिये भी कुछ अतिरिक्त टैब्स प्रदर्शित होते रहते हैं,

साथ ही साथ इसमें नई शॉर्टकट कुंजी के रूप में Alt कुजी का प्रयोग किया गया है अर्थात् Alt कुंजी तथा अन्य कीबोर्ड कुंजियों का प्रयोग करके आप पॉवरपॉइंट के किसी भी विकल्प को एक्सेस कर सकते हैं,

जैसे यदि आप स्लाइड में पिक्चर इन्सर्ट करना चाहते हैं तो Alt+N +P शॉर्टकट कुंजी द्वारा Insert Picture डायलॉग बॉक्स ओपन कर सकते हैं।

स्टाइल गैलेरी (Style Gallery): पॉवरपॉइंट 2007 में Design कमांड टैब स्लाइड की स्टाइल को पूर्णत: समर्पित है, इस टैब में आप स्लाइड के लिये विभिन्न थीम्स का चयन कर सकते हैं,

उन थीम्स में आवश्यकतानुसार संशोधित कर सकते हैं तथा फॉन्ट्स आदि की सेटिंग कर सकते हैं। स्लाइड स्टाइल आपके प्रेजेंटेशन को एक व्यावसायिक लुक देने में सहायता करती है।

इस प्रकार से आप यह सुनिश्चित कर सकते हैं कि आपकी स्लाइड में प्रविष्ट सभी घटक ममान रूप से प्रदर्शित हो रहे हैं।

लाइव प्रीव्यू (Live Preview): पॉवरपॉइंट 2007 के सबसे अच्छे गुणों में से एक है, लाइव प्रीव्यू इस गुण के कारण जब आप स्लाइड में किसी कमांड जैसेकलर, फॉन्ट आदि का प्रयोग करते हैं,

तो यह उस विकल्प का चयन करने से पहले ही उसके प्रभाव का प्रीव्यू डॉक्यूमेंट में लागू होकर यह दिखा देता है स्लाइड में उसका लुक कैसा होगा।

इस प्रभाव के कारण आपको स्लाइड के घटकों के लिये उपयुक्त विकल्प का चयन करने के लिये सभी विकल्पों को बारबार प्रयोग करने की आवश्यकता नहीं होती हैं।

उदाहरण के लिये, यदि आप स्लाइड में किसी थीम को लागू करना चाहते हैं तो थीम मेन्यू से विभिन्न थीम्स पर माउस ले जाने पर उसका प्रभाव आपकी स्लाइड पर दिखायी देगा, इसके पश्चात् यदि आप उस थीम का चयन करना चाहते हैं तो उसपर क्लिक कर दीजिए

प्रेजेंटर व्यू (Presenter View): यह पॉवरपॉइंट 2007 में नया तथा अत्यंत महत्वपूर्ण गुण हैं। प्रेजेंटर व्यू का प्रयोग करने पर आप पॉवरपॉइंट प्रेजेंटेशन को एक साथ दो मॉनीटर्स में देख सकते हैं।

मान लीजिए, आप लैपटॉप और प्रोजेक्टर की सहायता से कूछ दर्शकों के समक्ष एक प्रेजेंटेशन प्रस्तुत कर रहें हैं तो आपके लैपटॉप में प्रदर्शित होने वाला व्यू तथा प्रोजेक्टर में प्रदर्शित होने वाला व्यू में अंतर होगा

प्रेजेंटर व्यू का प्रयोग करने पर यूजर को सम्पूर्ण पॉवरपॉइंट विंडो दिखायी देगी जबकि प्रोजेक्टर से प्रेजेंटेशन देख रहे दर्शकों को केवल प्रेजेंटेशन का प्रीव्यू ही दिखायी देगा। इस प्रकार से आप किसी एक प्रेजेंटेशन को दो मॉनीटर्स में रन करा सकते हैं।

छोटा फाइल आकार (Smaller File Size): एक आदर्श प्रेजेंटेशन का निर्माण करने के लिये आपको कई चित्रों, चार्ट्स आदि का प्रयोग करना पड़ सकता है, जिस कारण से उस फाइल का आकार काफी बड़ा हो सकता है, कई एम.बी. तक।

इस समस्या को भी हल करते हुए माइक्रोसॉफ्ट ने पॉवरपॉइंट 2007 में XML(Extensible Markup Language) पर आधारित फाइल प्रारूप प्रदान किया है, जो फाइल के आकार को 95 प्रतिशत तक कम कर सकती हैं।

XML पॉवरपॉइंट फाइल (fi lename.pptx) पॉवरपॉइंट 2007 का डिफॉल्ट प्रारूप है, लेकिन इसके अतिरिक्त आप पॉवरपॉइंट के पुराने प्रारूप (filename.ppt) का प्रयोग भी कर सकते हैं।

बेहतरीन ग्राफिक्स (Marvelous graphics): पॉवरपॉइंट एक प्रेजेंटेशन सॉफ्टवेयर है, इस कारण से इसमें ग्राफिक्स का महत्त्व और भी बढ़ जाता है।

एम एस पॉवरपॉइंट अपने यूजर्स को ग्राफिक्स के साथ कार्य करने के लिये विभिन्न प्रकार के लाजवाब टूल्स प्रदान करता है, जिनका प्रयोग करके आप अपने प्रेजेंटेशन की पिक्चर, वर्डआर्ट,

स्मार्टआर्ट आदि में कई विशेष प्रभाव जोड़ सकते हैं, जैसेआप किसी पिक्चर के लिये छाया का निर्माण कर सकते हैं, उसका प्रतिबिम्ब निर्मित कर सकते हैं, उसे 3-डी प्रारूप में प्रदर्शित कर सकते हैं, पिक्चर्स के लिये विभिन्न स्टाइल्स का प्रयोग कर सकते हैं आदि।

PDF के रूप में फाइल को सेव करना (Saving file as PDF):अपनी प्रेजेंटेशन फाइल को किसी भी कम्प्यूटर में देखने के लिये आप उसे PDF (Portable Document Format) के रूप में सेव कर सकते हैं।

इस प्रकार से आप अपनी फाइल की उन व्यक्तियों के साथ भी आसानी से शेयर कर सकते हैं, जिनके कम्प्यूटर में या तो एम एस ऑफिस नहीं है या फिर जो विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम का ही प्रयोग नही करते हैं।

इसके अतिरिक्त अपने प्रेजेंटेशन को PDF प्रारूप में सेव करने पर आपकी फाइल को भी एडिट करना आसान नहीं होता है तथा यह सामान्य प्रेजेंटेशन फाइल की तुलना में काफी डिस्क स्पेस में भी स्टोर होता है

सी.डी.तैयार (Preparing CDs) मान लीजिए कि आप अपना किसी ऐसे कम्प्यूटर में प्रदर्शित करना चाहते हैं जिस पर पॉवरपॉइंट इंस्टॉल नहीं हैं। ऐसी स्थिति में आप क्या करेंगे?

एम एस पॉवरपॉइंट 2007 आपको ऐसी समस्या से बचाने के लिये आपके प्रेजेंटेशन की एक व्यूअर प्रेजेंटेशन फाइल के रूप में सी.डी. में कॉपी करने की सुविधा प्रदान करता है।

(Opening Microsoft Office or MS PowerPoint in Hindi)

एम एस पॉवरपॉइंट को आरम्भ करने के लिये निम्न चरणों का अनुसरण कीजिए:

स्टार्ट बटन पर क्लिक कीजिए और Programs पर जाइये।

ओपन मेन्यू Microsoft Office पर जाइये और Microsoft Office Powerpoint 2007 पर क्लिक कीजिए।

Run प्रोग्राम से पॉवरपॉइंट 2007 को ओपन करने के लिये निम्न चरणों का अनुसरण कीजिए:

स्टार्ट बटन पर क्लिक कीजिए और Run पर क्लिक कीजिए।

ओपन Run डायलॉग बॉक्स में Powerpnt.Exe टाइप कीजिए।

OK पर क्लिक कर दीजिए

Screen’s elements of MS PowerPoint in Hindi 

टाइटल बार (Title Bar): टाइटल बार में आपको Microsoft PowerPoint साथ ही साथ Presentation को दिया गया नाम दिखायी देता है।

यदि आपने प्रेजेंटेशन फाइल को कोई नाम नहीं दिया है तो नाम के स्थान पर Presentation1, 2, 3….n दिखायी देगा इसके अतिरिक्त टाइटल बार में आपको कन्ट्रोल बटन्स, ऑफिस बटन तथा क्विक एक्सेस टूल बार भी प्राप्त होंगे।

कन्ट्रोल बटन्स (Buttons Buttons): ये बटन्स एप्लीकेशन विंडो को कन्ट्रोल बटन्स के नीचे स्थित हैं तथा इनका प्रयोग भी डॉक्यूमेंट विंडो को मिनिमाइज, मैक्सीमाइज तथा क्लोज करने के लिये किया जाता है।

रिबन (Ribbon): पॉवरपॉइंट रिबन में एम एस वर्ड की ही तरह कमांड टैब्स होते हैं, जिनका प्रयोग पॉवरपॉइंट को ऑपरेट करने के लिये किया जाता है।

एम एस पॉवरपॉइंट रिबन Home, Insert, Design, Animation, Slide show, Review और View कमांड टैब होते हैं।

ऑफिस बटन (Office Button): एम एस पॉवरपॉइंट में आफिस बटन फाइल मेन्यू को ओपन करने का कार्य करती है, जिसके विकल्पों का प्रयोग करके आप नई फाइल्स का निर्माण कर सकते हैं तथा किसी फाइल को ओपन, प्रन्ट तथा सेव कर सकते हैं।

क्विक एक्सेस टूलबार (Quick Access Toolbar): क्विक एक्सेस टूलबार आपको ऑफिस बटन के सामान्यत: प्रयोग होने वाले विकल्पों को वनक्लिक एक्सेस करने की सुविधा प्रदान करता है।

प्रेजेंटेशन विंडो (Presentation window): यह पॉवरपॉइंट विंडो का वह सक्रिय भाग है, जिस पर स्लाइड प्रदर्शित होती है तथा जहाँ आप प्रेजेंटेशन विंडो से सम्बन्धित समस्त कार्य करते हैं। दूसरे शब्दों में आप इसे एडिटिंग क्षेत्र या कार्य क्षेत्र भी कह सकते हैं।

स्टेटस बार (Status Bar): इस बार में यूजर को किये जा रहे कार्य की स्थिति का पता चलता है। इसके अतिरिक्त इस बार की बायीं ओर व्यूज टूल तथा जूम कन्ट्रोल स्क्रॉल बटन्स भी स्थित होते हैं।

नोट्स क्षेत्रा (Notes Area): यह स्लाइड नीचे प्रदर्शित होने वाला एक टेक्स्ट बॉक्स है, जिसका प्रयोग प्रत्येक स्लाइड के लिये कुछ विशेष टिप्पणी देने के लिये किया जाता है।

स्लाइड टैब (Slide Tab): स्लाइड टैब का प्रयोग करने पर आपको प्रेजेंटेशन में उपयोग होने वाले प्रत्येक स्लाइड का व्यू दिखायी देता है, एक स्लाइड से दूसरी स्लाइड तक जाने के लिये भी आप इस टैब का प्रयोग कर सकते हैं।

आउटलाइन टैब (Outline Tab): आउटलाइन टैब का प्रयोग करने पर आपको प्रेजेंटेशन में उपयोग होने वाली प्रत्येक स्लाइड आइकॉन के रूप में दिखायी देती है तथा इसका प्रयोग करके आप स्लाइड में टेक्स्ट भी इन्सर्ट कर सकते हैं।

Creating a Presentation in MS POwerPoint in Hindi

पॉवरपॉइंट में आप प्रेजेंटेशन का निर्माण दो तरीको से कर सकते हैं:

ब्लैंक प्रेजेंटेशन का उपयोग करके (Using Blank Presentation)

डिजाइन टेम्पलेट्स का उपयोग करके (Using Design Templates)

ब्लैंक प्रेजेंटेशन का प्रयोग करके (Using Blank Presentation)

ऑफस बटन पर क्लिक कीजिए और ओपन मेन्यू से New पर क्लिक कीजिए |

ओपन New डायलॉग बॉक्स Blank Presentation पर क्लिक कीजिए और फिर Create पर क्लिक कर दीजिए।

Using Design Templates of MS PowerPoint in Hindi

ऑफिस बटन पर क्लिक कीजिए और ओपन मेन्यू से New पर क्लिक कीजिए

ओपन New डायलॉग बॉक्स में Installed Templates पर क्लिक कीजिए

Installed Templates लिस्ट बॉक्स से उपयुक्त Template पर क्लिक कीजिए

Preview बॉक्स में Template रेडियो बटन पर क्लिक कीजिए और अंत में Create पुश बटन पर क्लिक कीजिए।

Downloading Templates by Microsoft Office Online

पहले से इंस्टॉल टेम्प्लेट्स के अतिरिक्त आप माइक्रोसॉफट ऑफिस ऑनलाइन का प्रयोग करके सैकड़ो नये टेम्प्लेट्स को भी डाउनलोड कर उनका प्रयोग कर सकते हैं। ऑफिस ऑनलाइन से टेम्प्लेट्स को डाउनलोड करने के लिये निम्न चरणों का अनुसरण कीजिए:

ऑफिफस बटन (Offi ce Button) पर क्लिक कीजिए या Alt+F शॉर्टकट कुंजी का प्रयोग कीजिए ओपन मेन्यू से New पर क्लिक कीजिए

ओपन New Document डायलॉग बॉक्स में डपबतवेवजि Microsoft Office Online में उपस्थित उपयुक्त वर्ग पर क्लिक कीजिए

ओपन हुई लिस्ट बॉक्स में से उपयुक्त टेम्प्लेट पर क्लिक कीजिए।

Download पुश बटन पर क्लिक करके टेम्प्लेट को डाउनलोड कीजिए।

प्रेजेंटेशन को सेव करना (Saving Presentation of MS PowerPoint in Hindi)

निर्मित किये गये प्रेजेंटेशन को भविष्य में भी उपयोग करते रहने के लिये यह परम आवश्यक होता है कि उस डॉक्यूमेंट को हार्डडिस्क में स्थान दे दिया जाये अर्थात् उसे सुरक्षित (Save) कर लिया जाये। अपने डॉक्यूमेंट को सेव करने के लिये हमें निम्न चरणों का अनुसरण करना पड़ता है।

ऑफिस बटन पर क्लिक कीजिए

save पर क्लिक कीजिए या Ctrl+S शॉर्टकट कुंजी का प्रयोग कीजिए या फिर क्विक एक्सेस टूलबार से सेव टूल पर क्लिक कीजिए

ओपन हुए Save As डायलॉग बॉक्स में तीन विकल्प मिलेंगे:

File Name: इस विकल्प में हम फाइल का नाम टाइप करते हैं। यहाँ यह नोट करना आवश्यक है कि फाइल का नाम उसके डाटा से सम्बन्धित होना चाहिए।

Save As Type: इस विकल्प में हम यह निर्धारित करते हैंकि हमारे डॉक्यूमेंट का प्रकार या विस्तारक (Extension) क्या होगा।

विस्तारक कम्प्यूटर के ऑपरेटिंग सिस्टम को यह बतलाता है कि हमारी फाइल किस सॉफटवेयर से सम्बन्धित है। एम एस पॉवरपॉइंट 2003 तक प्रेजेंटेशन फाइल का विस्तारक .Ppt था, परंतु एम एस पॉवरपॉइंट 2007 में यह विस्तारक .Pptx हो गया है।

Save In: इसमें हम यह निर्धरित करते हैं कि हमारा डॉक्यूमेंट हार्डडिस्क के किस स्थान पर सुरक्षित होगा, जैसे माई डॉक्यूमेंट, D ड्राइव आदि।

save पर क्लिक कीजिए।

Other Extension used in MS Powerpoint in Hindi

वैसे तो पॉवरपॉइंट 2007 का डिफॉल्ट .pptx विस्तारक होता है, लेकिन आप प्रेजेंटेशन या फिर प्रेजेंटेशन स्लाइड को कई विस्तारकों के रूप में सेव कर सकते हैं।

अपने प्रेजेंटेशन को किसी अन्य प्रारूप में सेव करने के लिये निम्न चरणों का अनुसरण कीजिए:

ऑफिस बटन पर क्लिक कीजिए

save या Save As पर क्लिक कीजिए या Ctrl+S शॉर्टकट कुंजी का प्रयोग कीजिए या फिर क्विक एक्सेस टूलबार से सेव टूल पर क्लिक कीजिए

ओपन हुए Save As डायलॉग बॉक्स के Save As Type पुलडाउन लिस्ट से उपयुक्त प्रारूप का चयन कीजिए।

save पर क्लिक कर दीजिए।

Opening Presentation File in MS PowerPoint in Hindi

अपनी प्रेजेंटेशन फाइल को ओपन करने के लिये निम्न चरणों का अनुसरण कीजिए :

ऑफिस बटन पर क्लिक कीजिए और ओपन मेन्यू से Open पर क्लिक कीजिए या Ctrl+O शॉर्टकट कुंजी का प्रयोग कीजिए या फिर क्विक एक्सेस टूलबार से ओपन टूल पर क्लिक कीजिए

ओपन हुए Open डायलॉग बॉक्स में File Name बॉक्स में फाइल का नाम टाइप कीजिए,Files of Type ड्रॉपडाउन लिस्ट से फाइल के फॉर्मेट का चयन कीजिए और Look In से उस पाथ का चयन कीजिए जहाँ फाइल स्टोर है। आप फाइल पर क्लिक करके उसका चयन भी कर सकते हैं।

open पुश बटन पर क्लिक कीजिए प्रेजेंटेशन फाइल नई विंडो में ओपन हो जायेगी।

Previewing a Presentation of MS PowerPoint in Hindi

किसी प्रेजेंटेशन का प्रिन्ट प्राप्त करने से पहले उस प्रेजेंटेशन का प्रीव्यू या प्रिन्ट प्रीव्यू देख लेना एक सुविधजनक प्रक्रिया होती है,

क्योंकि इससे हमें यह पता चलता है कि हमारे प्रेजेंटेशन का प्रिन्ट हमें कागज पर किस प्रकार से प्राप्त होगा। इससे हमें हमारे डॉक्यूमेंट के मार्जिन (Margin), आकार (Size) आदि का पता चलता है। अपने डॉक्यूमेंट का प्रीव्यू देखने के लिये हमें निम्न चरणों का अनुसरण करना पड़ता है:

ऑफिस बटन पर क्लिक कीजिए।

प्रिन्ट पर जाइये तथा प्रिन्ट प्रीव्यू (Print Preview) पर क्लिक कीजिए

ओपन हुई प्रिन्ट प्रीव्यू विंडो में हमें निम्न विकल्प मिलेंगे:

Print: इस ग्रुप के विकल्पों का प्रयोग करके आप प्रेजेंटेशन की प्रिन्टिंग से सम्बन्धित कार्य कर सकते हैं, जैसे कि, प्रिन्ट डायलॉग बॉक्स ओपन करना, हेडर तथा फुटर की सेटिंग करना आदि।

Page setup: इस ग्रुप के विकल्पों का प्रयोग करके आप यह सेट कर सकते हैं कि आप प्रेजेंटेशन के किस भाग को प्रिन्ट कराना चाहते हैं तथा पेज ओरिएंटेशन सेट कर सकते हैं।

Zoom: इस ग्रुप के विकल्पों का प्रयोग आप स्लाइड के व्यू को बढ़ाने तथा घटाने के लिये करते हैं।

A Preview: इस ग्रुप के विकल्पों का प्रयोग करके आप एक पेज से दूसरे पेज तक कन्ट्रोल को स्विच कर सकते हैं तथा प्रिन्ट प्रीव्यू को बंद कर सकते हैं।

Printing Presentation of MS PowerPoint in Hindi

यह कार्य किसी भी प्रेजेंटेशन सिस्टम के लिये गैरजरूरी परंतु अति महत्त्वपूर्ण कार्य होता है। गैरजरूरी इसलिए क्योंकि यह आवश्यक नहीं है कि हम अपने सभी स्लाइड्स का प्रिन्ट प्राप्त करें,

लेकिन अतिमहत्त्वपूर्ण इसलिए क्योंकि यदि हमें अपना प्रेजेंटेशन किसी ऐसे व्यक्ति के समक्ष प्रस्तुत करना है, जो कि कम्प्यूटर के समक्ष नहीं है तो उस प्रेजेंटेशन का प्रिन्ट प्राप्त करना परम आवश्यक होता है।

प्रिन्टर द्वारा डॉक्यूमेंट के इस आउटपुट को हम प्रिन्ट आउट या हार्डकॉपी कहते हैं ;नोटः कम्प्यूटर स्क्रीन पर दिखायी देने वाले डॉक्यूमेंट के आउटपुट को सॉफरटकॉपी कहते हैं।

अपनी प्रेजेंटेशन स्लाइड्स का प्रिन्ट आउट प्राप्त करने के लिये हमें निम्न चरणों का अनुसरण करना पड़ता है:

प्रेजेंटेशन को ओपन कीजिए।

ऑफिस बटन पर क्लिक कीजिए और ओपन मेन्यू से Print पर क्लिक कीजिए, या फिर Ctrl+P शॉर्टकट कुंजी का प्रयोग कीजिए

ओपन Print डायलॉग बॉक्स में आपको निम्न विकल्प प्राप्त होंगे:

Printer: इस खण्ड में आपको प्रिन्टर का नाम (Name), स्थिति (Status), प्रकार (Type) आदि पता चलेगा।

Status में यदि Idle दिया हुआ है तो इसका अर्थ है कि प्रिन्टर प्रेजेंटेशन को प्रिन्ट करने के लिये तैयार है और यदि Busy दिया हुआ है तो इसका अर्थ है कि यह किसी अन्य डॉक्यूमेंट को प्रिन्ट कर रहा है।

All: यदि आप प्रेजेंटेशन की सभी स्लाइड्स को प्रिन्ट कराना चाहते हैं, तो इस रेडियो बटन पर क्लिक कीजिए |

Current slide: वर्तमान स्लाइड को प्रिन्ट कराने के लिये।

slides: पूरे प्रेजेंटेशन में से कुछ निश्चित स्लाइड्स को प्रिन्ट कराने के लिये।

Number Of Copies: इस स्पिनर से आप यह निश्चित कर सकते हैं कि आप प्रत्येक स्लाइड की कितनी प्रतियों का प्रिन्टआउट प्राप्त करना चाहते हैं।

Print what: इस पुलडाउन लिस्ट से आप यह सेट कर सकते हैं कि प्रेजेंटेशन से आप क्या प्रिन्ट करना चाहते हैं: Slides, Handouts, Note Pages या फिर Outline Views

color/Grayscale: इस विकल्प का उपयोग करके आप यह सेट कर सकते हैं कि आप स्लाइड्स का प्रिन्ट कलर चाहते हैं या ग्रेस्केल या फिर श्वेतश्याम (Black & White)

A Preview: यदि आप प्रेजेंटेशन का प्रिन्ट प्रीव्यू देखना चाहते हैं तो आप इस पुश बटन पर क्लिक कर सकते हैं।

इसके पश्चात् OK पर क्लिक कर दीजिए। 

पॉवरपॉइंट शब्दावली (Terminology of MS PowerPoint in Hindi)

एनिमेशन (Animation) एनिमेशन किसी टेक्स्ट या ऑब्जेक्ट के साथ उपयोग होने वाला ऑडियो या विजुअल प्रभाव है, जिसका प्रयोग प्रेजेंटेशन को प्रभावी रूप से प्रदर्शित करने के लिये किया जाता है।
क्लिपआर्ट (Clipart) पिक्चर्स का एक समूह जो पिक्चर गैलरी में उपस्थित होता है, इस फोल्डर में सामान्यतः माइक्रोसॉफ्ट द्वारा पूर्वडिजायन पिक्चर्स ही होते हैं लेकिन आप अन्य पिक्चर्स को भी आयात कर सकते हैं।
ऑब्जेक्ट (Object) ऑब्जेक्ट प्रेजेंटेशन में उपयोग होने वाली वस्तु को कहते हैं, जैसेटेक्स्ट, वर्ड आर्ट या पिक्चर।
प्रेजेंटेशन (Presentation) प्रेजेंटेशन का अर्थ है वह फाइल जिसमें किसी सूचना से सम्बन्धित स्लाइम सम्मिलित हो।
स्लाइड शो (Slide Show) स्लाइड शो का अर्थ है पॉवरपॉइंट स्लाइड्स को प्रदर्शित करना।
टेम्पलेट (Template) पूर्वनिर्मित ऐसे प्रेजेंटेशन्स जिनकी स्लाइड के लिये पहले से ही डिफॉल्ट सेटिंग्स निर्धारित हो।
ट्रिजिशन Transition) ट्रॉजशन ऐसे विशेष प्रभाव है, जिनका प्रयोग स्लाइड शो के दौरान दो स्लाइड्स के मध्य होता है।

Terminology of MS PowerPoint in Hindi 

https://www.youtube.com/watch?v=DunMU8oY4lU

ये भी पढ़ें:-

मैं आसा करता हूँ की आपको बहुत सारी जानकारी मिली होगीपॉवरपॉइंट (MS PowerPoint in Hindi) के बारे में और अब आप प्रैक्टिकल कर के भी देख सकते हैं ताकि आपको और भी अच्छे से समझ आजाएगा अगर आप और भी जानना चाहते हैं डिटेल में तो यहाँ क्लिक करें।

 

 

To Know Some Great Stuff Do Visit zoomoutme

To Know Some Great Stuff Do Visit savefo

To Know Some Great Stuff Do Visit andactivate