Worksheet in Hindi:- अगर आप भी जानना चाहते हैं की वर्कशीट (MS Excel Worksheet in Hindi) के बारे में वो भी हिंदी में तो आप बिलकुल सही वेबसाइट पे आए हैं यहाँ आपको मैं पूरी जानकारी मिलेगी की वर्कशीट क्या है (What is Worksheet in Hindi) और आप इसे कैसे इस्तेमाल कर सकते हैं वो भी संछेप में।

वर्कबुक और वर्कशीट (Workbook and Worksheet in Hindi)

Worksheet in Hindi 

वर्कबुक और वर्कशीट में उतना ही अंतर है जितना पुस्तक और पन्ने में होता है। एम एस एक्सेल का प्रयोग करके जिस फाइल का निर्माण किया जाता है उसे वर्कबुक कहते हैं।

इस फाइल में आप डाटा प्रविष्ट करने के लिये जो शीट होती है उसे वर्कशीट पास्ता हैं एक वर्कबुक में डिफॉल्ट रूप से 3 वर्कशीट्स होते हैं जिन्हें आप अपनी आवश्यकतानुसार घटा या बढ़ा सकते हैं।

वर्कशीट को स्प्रेडशीट भी कहते हैं। सामान्यत: स्प्रेडशीट शब्द का प्रयोग वर्कबुक के लिये किया जाता है लेकिन सत्य यह है वर्कशीट वर्कबुक में पंन्तियों और कॉलम्स से बनी हुई तालिका है, जिसमें कई सेल होते हैं।

एम एस एक्सेल की एक स्प्रेडशीट में कूल 10,48,576 पक्तियाँ दी गयी है जिन्हें 1 से 1048576 तक दर्शाते हैं तथा 16,384 कॉलम्स हैं जिन्हें A से XFD तक दर्शाते हैं।

यानी एक वर्कशीट में कार्य करने के लिये आपके पास कूल 17,17,98,69,184 सेल्स हैं। सेल एक प्रकार का आयताकार बॉक्स होता है जिसमें यूजर अपना डाटा प्रविष्ट कर सकता है।

इन सेलों का निर्माण पंक्तियों और कॉलम्स के प्रतिच्छेदन से होता हैं। इसलिए इनका नामकरण भी दोनों के नामों के अनुसार ही होता है, जैसे A1, DS151 तथा XFD356563A एक्सेल में पहली सेल का नाम A1 तथा अंतिम सेल का नाम XFDI048576 होता है।

एम एस एक्सेल में कार्य करने के लिये आपके पास मुख्य रूप से तीन घटक होते हैं, जिनके बिना कार्य नहीं किया जा सकता है। ये हैं:

टेक्स्ट (Text): अक्षरों के रूप में टाइप किया गया डाटा।

संख्या (Numbers): अंकों के रूप में दिया गया डाटा

फॉर्मूला (Formula): यह निर्देशों का समूह है जो दिये डाटा और कमांड के अनुसार कार्य करता है। किसी भी फॉर्मूले का प्रयोग करने के लिये हमें सेल में सबसे पहले ‘=’ टाइप करना होता है।

सेल रेंज (cell Range of Worksheet in Hindi)

एम एस एक्सेल में किसी भी फॉर्मूला का प्रयोग करने, डाटा का प्रिन्ट प्राप्त करने या फिर डाटा को एक वर्कशीट से दूसरी वर्कशीट में कॉफी या मूव करने के लिये डाटा की सेलों का चयन करना आवश्यक होता है।

चयनित सेल के इस क्षेत्र को ही हम सेल रेंज कहते हैं। कट, कॉपी और पेस्ट की तरह सेल रेंज भी एक अत्यंत उपयोगी विशेषता है जिससे एक्सेल में कार्य करना काफी सरल हो जाता है। एक्सेल में आप निम्न प्रकार सेलों की एक रेंज का चयन कर सकते हैं:

सेल के जिस क्षेत्र का चयन करना है, उसके प्रथम या अंतिम सेल पर क्लिक कीजिए

कर्सर को उस सेल तक ड्रैग कीजिए, जिस तक आप सेल रेंज का चयन करना चाहते हैं। इसके पश्चात् माउस बटन को छोड़ दीजिए।

अगर आपको किसी फॉर्मूला के लिये सेल रेंज का चयन करना है तो यह कार्य आप निम्न प्रकार से कर सकते हैं:

उस सेल पर क्लिक कीजिए जिस पर फॉर्मूला लागू करना है।

=चिह्न टाइप कीजिए और फिर फॉर्मूला का नाम टाइप कीजिए, जैसे (= sum)

जिस क्षेत्र के डाटा का योग करना चाहते हैं उसकी प्रथम सेल तथा अंतिम सेल का नाम दीजिए, जैसे A1 तथा CSI इन दोनों सेलों के नामों के बीच कोलन (:) चिह्न का प्रयोग करना जरूरी है क्योंकि यह कोलन कम्प्यूटर को बताता है,

कि किन कॉलम्स तथा पंक्तियों डाटा का गणना करना है। यदि आप वर्कशीट में अलगअलग कॉलम्स तथा पंक्तियों के डाटा का योग करना चाहते हैं तो उनकी रेंजों के नामों को कॉमा (Comma) से पृथक करना चाहिए, जैसे: A1:A5, Ci:C5, F1:F5 आदि।

सेल रिफरेंस (Cell Reference of Worksheet in Hindi)

एम एस एक्सेल में सेल रिफरेंस एक बेहतरीन फीचर है जिसका प्रयोग करके आप यह निर्धारित कर सकते हैं कि फॉर्मूला या फंक्शन सेल में दिये गये डाटा के साथ किस प्रकार से कार्य करेगा।

सेल रिफरेंस फंक्शन्स के बेसिक बिल्डिंग ब्लॉक्स हैं, जिनका प्रयोग एक्सेल में फॉर्मूला या फंक्शन का उपयोग करते हुए सेल को निर्दिष्ट करने के लिये किया जा सकता है। आप निम्न प्रकार के सेल रिफरेंस का प्रयोग कर सकते है:

रिलेटिव सेल रिफरेंस (Relative Cell Reference of Worksheet in Hindi)

किसी फॉर्मूला का प्रयोग करते हुए जब आप किसी फॉर्मूला के साथ सेल रिफरेंस के रूप में केवल कॉलम के नाम और पंक्ति संख्या का प्रयोग करते हैं तो उसे रिलेटिव सेल रिफरेंस कहते हैं।

इस प्रकार की सेल रिफरेंस में जब आप फॉर्मूला को एक सेल से कॉपी करके दूसरी सेल में पेस्ट करते हैं तो उसमें दी गयी सेल रेंज भी कॉलम और पंक्ति के अनुसार बदल जाती है। उदाहरण के लिये,

यदि आपने सेल A10 से Sum फंक्शन को कॉपी किया है, जिसमें A1 से A9 तक के डाटा का योग दिया पाया है तो फंक्शन को सेल B10 में पेस्ट करने पर यह फंक्शन B1 से B9 तक के डाटा का योग करेगा।

एब्सॉल्यूट सेल रिफरेंस (Absolute Cell Reference of Worksheet in Hindi)

एब्सॉल्यूट सेल रिफरेंस रिलेटिव सेल रिफरेंस से बिल्कुल विपरीत तरीके से कार्य करता है। इस प्रकार के सेल रिफरेंस को कॉपी करके किसी भी सेल में पेस्ट करने पर रिफरेंस में कोई परिवर्तन नहीं आएगा।

इस सेल रिफरेंस का प्रयोग तब किया जाता है, जब यूजर यह नहीं चाहता हो कि सेल रेंज में कोई परिवर्तन आए। एब्सॉल्यूट सेल रिफरेंस का प्रयोग करने के लिये यूजर को कॉलम के नाम तथा पंक्ति संख्या से पहले डॉलर चिह्न ($) का प्रयोग करना चाहिए, जैसे $B$8A

डॉलर चिह्न का प्रयोग कम्प्यूटर को यह बताता है कि यह सेल रिफसरेंस एक एब्सॉल्यूट सेल रिफरेंस है तथा दिये गये फॉर्मूला की सेल रेंज में कोई परिवर्तन नहीं किया जायेगा। इस सेल रिफरेंस का प्रयोग भी दो प्रकार से किया जा सकता है।

पहला, दोनों सेलों के साथ डॉलर चिह्न का प्रयोग करके, जैसे (= $A$1*$B$1) और दूसरा, किसी एक साथ (=A1*$B$1)

एब्सॉल्यूट सेल रिफरेंस के पहले प्रकार में डाटा बिल्कुल भी परिवर्तित नहीं होगा जबकि दूसरे प्रकार से क्या A1′ के अनुरुप परिवर्तन होगा लेकिन ‘B1’ वैसा ही रहेगा।

मिश्रित सेल रिफरेंस (Mixed Cell Reference of Worksheet in Hindi)

इस प्रकार के सेल रिफरेंस में दोनों सेल रिफरेंसों के गुण पाये जाते है यानी फॉर्मूला कॉपी करने पर परिवर्तन होगा भी और नहीं भी।

इस प्रकार के सेल रिफरेंस में कॉलम के नाम और पंक्ति संख्या में से किसी एक के साथ डॉलर चिह्न का प्रयोग किया जाता है जबकि दूसरे के साथ नहीं यानी कॉलम या पंक्ति में से किसी एक का डाटा अपरिवर्तनीय रहता है जैसे (=Sum(A$1: $A9)

वर्कशीट में नई सेल, पंक्ति तथा कॉलम इन्सर्ट करना (Inserting New Cell, Row and Column of Worksheet in Hindi)

Worksheet in Hindi 

वर्कशीट पर कार्य करते हुए कई बार कुछ पंक्तियों या कॉलम्स के बीच में डाटा इन्सर्ट करने की जरूरत महसूस होती है।

ऐसी स्थिति में आप कॉलम्स या पंक्तियों के बीच नई सेल, पंक्तियाँ कॉलम इंसर्ट कर सकते हैं। वर्कशीट में सेल, पंक्ति या कॉलम इन्सर्ट करने के लिये निम्न चरणों का अनुसरण करना होगा:

जिस सेल के पास आपको सेल, पंक्ति या कॉलम इन्सर्ट करना है, उस पर क्लिक करके कर्सर स्थापित कीजिए।

अब Home कमांड टैब पर जाइये और Cells ग्रुप में Insert ऐरो पर क्लिक कीजिए।

एक ड्रॉपडाउन लिस्ट ओपन होगी। सेल इन्सर्ट करने के लिये Cell पर क्लिक कीजिए

Insert डायलॉग बॉक्स ओपन हो जायेगा | सेलों को दायीं और मूव करने के लिये Shift Cells Right रेडियो बटन पर क्लिक कीजिए और सेलों को नीचे मूव करने के लिये Shift Cells Down पर क्लिक कीजिए

अगर आप पंक्ति इन्सर्ट करना चाहते हो तो Insert sheet Rows पर क्लिक कीजिए ऐसा करते ही सक्रिय सेल के ऊपर पंक्ति का निर्माण हो जायेगा।

अगर आप कॉलम इन्सर्ट करना चाहते हो तो Insert Sheet Columns पर क्लिक कीजिए ऐसा करते ही सक्रिय सेल के दायीं ओर कॉलम का निर्माण हो जायेगा।

सक्रिय वर्कबुक में नई वर्कशीट इन्सर्ट करने के लिये Insert sheet पर क्लिक कीजिए

oK पर क्लिक कर दीजिए।

सेल,कॉलम तथा पंक्ति डिलीट करना (Deleting Cell, Columns and Rows of Worksheet in Hindi)

Worksheet in Hindi 

किसी सेल, कॉलम या फिर पंक्ति को डिलीट करने के लिये निम्न चरणों का अनुसरण कीजिए:

जिस सेल, कॉलम या पंक्ति को डिलीट करना है, उसका चयन कीजिए।

होम कमांड टैब पर जाइये और Cells ग्रुप में Delete ऐरो पर क्लिक कीजिए।

एक ड्रॉपडाउन लिस्ट ओपन होगी। सेल को डिलीट करने के लिये Delete Cells पर क्लिक कीजिए।

Delete डायलॉग बॉक्स ओपन हो जायेगा। सेलों की बायीं और मूव करने के लिये Shift Cells Left रेडियो बटन पर क्लिक कीजिए और सेलों को ऊपर मूव करने के लिये Shift Cells Up पर क्लिक कीजिए

किसी कॉलम को डिलीट करने के लिये Delete Sheet Columns पर क्लिक कीजिए

पंक्ति को डिलीट करने के लिये Delete Sheet Rows पर क्लिक कीजिए

पूरी वर्कशीट को ही डिलीट करने के लिये Delete Sheet पर क्लिक कीजिए।

सेल डाटा को अलाइन करना (Aligning Cell Data of Worksheet in Hindi)

किसी सेल में टाइप किया गया डाटा सेल के किस और प्रदर्शित होगा, यह निर्धारित किया जाता है अलाइनमेंट के द्वारा। एम एस एक्सेल में निम्न प्रकार के अलाइनमेंट प्रदान क्रिय गये हैं:

S.No. Name Description
1 Left डाटा को सेल की बायीं ओर अलाइन करने के लिये।
2 Center  डाटा को सेल के बीच में अलाइन करने के लिये।
3 Right डाटा को सेल की दायाँ और अलाइन करने के लिये।
4 Top डाटा को सेल के शीर्ष पर अलाइन करने के लिये।
5 Middle डाटा को सेल के बीच में अलाइन करने के लिये।
6 Bottom डाटा को सेल के निचली ओर अलाइन करने के लिये।

आप निम्न प्रकार से सेल के डाटा का अलाइनमेंट सेट कर सकते हैं:

आप जिस सेल के डाटा का अलाइनग्नेप्टे सेट करना चाहते हैं, उस पर क्लिक करके कर्सर को स्थापित कीजिए

होम कमांड टैब पर मौजूद Alignment ग्रुप पर जाइये।

यदि आप डाटा को सेल के बायीं ओर, बीच में या फिर दायीं और अलाइन करना चाहते हैं तो क्रमशः Left, Center या Right अलाइनमेंट का प्रयोग कीजिए

डाटा को सेल के शीर्ष में, बीच में या फिर नीचे अलाइन करने के लिये क्रमशः Top, Middle T Bottom अलाइनमेंट का प्रयोग कीजिए

उपरोक्त दोनों समूहों में से आप एक समय पर एकएक अलाइनमेंट का प्रयोग कर सकते हैं।

सेल की फॉर्मेटिंग करना (Formatting Cells of Worksheet in Hindi) 

सेल को अलगअलग प्रकार से फॉर्मेट करने के लिये एम एस

एक्सेल आपकी कई सुविधाएं प्रदान करता है वर्कशीट को कस्टमाइज करने के लिये एक्सेल में कई विकल्प मौजूद हैं, जो वर्कशीट के डाटा को नया प्रारूप प्रदान करते हैं।

बॉर्डर की फॉर्मेटिंग करना (Formatting Border of Worksheet in Hindi)

वर्कशीट में प्रत्येक सेल को पृथक् रूप से प्रदर्शित करने के लिये बॉर्डर एक उपयोगी और आवश्यक घटक होता है। बॉर्डर का प्रयोग करने पर वर्कशीट के प्रिन्टआउट पर आसानी से डाटा को पृथक्, रूप से समझा जा सकता है।

एक्सेल वर्कशीट में बॉर्डर का चयन करने के लिये निम्न चरणों का अनुसरण कीजिए:

जिस सेल या सेल रेंज पर बॉर्डर लागू करना है उसका चयन कीजिए।

होम कमांड टैब के Font ग्रुप में Border टूल पर क्लिक कीजिए।

ओपन ड्रॉपडाउन लिस्ट बॉर्डर का चयन कीजिए |

यदि आप अन्य बॉर्डर विकल्पों का प्रयोग करना चाहते हैं तो More Borders पर क्लिक कीजिए

ओपन Format Cells डायलॉग बॉक्स के Border टैब में बॉर्डर के लिये उपयुक्त लाइन तथा कलर का चयन कीजिए।

OK पुश बटन पर क्लिक कर दीजिए

पंक्ति का ऊँचाई सेट करना (Adjusting Rows Height of Worksheet in Hindi)

होम कमांड टैब के Cells ग्रुप पर जाइये और Format पर क्लिक कीजिए।

ओपन पुलडाउन लिस्ट से Row Height पर क्लिक कीजिए।

ओपन Row Height बॉक्स में पंक्ति के लिये ऊँचाई निर्धारित कीजिए और OK पर क्लिक कर दीजिए |

कॉलम की चौड़ाकई सेट करना (Adjusting Columns Width of Worksheet in Hindi)

होम कमांड टैब के Cells ग्रुप पर जाइये और Format पर क्लिक कीजिए

ओपन पुलडाउन लिस्ट से Columns Width पर क्लिक कीजिए।

ओपन Columns width डायलॉग बॉक्स में कॉलम के लिये चौड़ाई निर्धारित कीजिए और OK पर क्लिक कर दीजिए।

सेलों का मर्ज करना (Merging Cells of Worksheet in Hindi)

कई बार वर्कशीट का निर्माण करते समय एक सेल में दिये गये डाटा के आधार पर आपको दो या दो से ज्यादा कॉलम्स या पंक्तियों पर कार्य करना पड़ सकता है।

ऐसी स्थिति में आप सेलों को मर्ज कर सकते हैं यानी दो या दो से ज्यादा सेलों को मिलाकर एक बड़ी सेल का निर्माण कर सकते हैं।

सेलों को मर्ज करने से पहले आपको यह ध्यान रखना चाहिए कि मर्ज की जा रही सेलों में कोई डाटा हो,

वरना बायीं ओर स्थित सेल के डाटा को छोड़कर पूरा बाकी डाटा डिलीट हो जायेगा| सेलों को मर्ज करने के लिये निम्न चरणों का अनुसरण कीजिए:

जिस सेल रेंज को मर्ज करना है, उसका चयन कीजिए Home कमांड टैब के Alignment ग्रुप में पर

जाइये और Merge टूल पर क्लिक कीजिए

ओपन मेन्यू से यदि आप सेल को मर्ज करने के पश्चात् कर्सर को सेन्टर अलाइन करना चाहते हैं, तो Merge & Center का चयन कीजिए।

यदि आपको चयनित रेंज में से केवल पंक्तियों को मर्ज करना है, तो Merge Across पर क्लिक कीजिए |

सेलों को किसी फोर्मेटिंग के बिना मर्ज करने के लिये Merge Cells पर क्लिक कीजिए

लागू की गयी सेल मर्ज को रद्द करने के लिये Unmerge Cells पर क्लिक कीजिए।

https://www.youtube.com/watch?v=SgmSpxh-Eog

ये भी पढ़ें:-

मैं आसा करता हूँ की आपको बहुत सारी जानकारी मिली होगी वर्कशीट (worksheet in Hindi) के बारे में और अब आप प्रैक्टिकल कर के भी देख सकते हैं ताकि आपको और भी अच्छे से समझ आजाएगा अगर आप और भी जानना चाहते हैं डिटेल में तो यहाँ क्लिक करें।

 

 

To Know Some Great Stuff Do Visit clearchit

To Know Some Great Stuff Do Visit giveve

To Know Some Great Stuff Do Visit searchitz