If you’re searching for the best love poem in Hindi then you’re at the right place. Here I’m sharing with you the top 20 love poem in Hindi which is really amazing and you can share it with you loved once. These poems are specially for those who are in a relationship or who love their partner as much as they can. Here it is.

  1. वो बारिश की बूंदे Love Poem in Hindi with Rain 

वो बारिश की बूंदों का गालों से सरकना, वो बारिश की बूंदों का होटों से टपकना,

वो यौवन की आभा का बारिश में थिरकना, वो मन का डगर से बारिश में फिसलना,

क्या आएगा मौसम ये फिर से दोबारा, वो बारिश की बूंदे वो बूंदों की धारा

  1. सूरज की पहली किरण Love Poem in Hindi with Lights

सूरज की पहली किरण या कोई खिलती कलि, बहारों की तुम छवि तो नहीं।

एक शायर की तुम कल्पना परि, मीठे ख्यालों की तुम संगिनी तो नहीं।

जगा देती तूफां जो है कभी, वो समंदर की तुम लहरें तो नहीं।

  1. तुम पर कविता मैं कैसे लिखूं Love Poem in Hindi

तुम पर कविता मैं कैसे लिखूं जब कविता ही तुमको पिरोए हुए है।

इन जुल्फों को कैसे कहूँ मैं घटा जब सावन ही जुल्फों में सोये हुए है।

इन आँखों को कैसे कहू मधुशाला जब मदिरा ही तुमको भिगोए हुए है। इन गालों को कैसे कहूँ मैं गुलाब

जब गुलाब ही क़दमों में खोये हुए है।

  1. पलकों पे Love Poem in Hindi

पलकों पे अपनी तुम को बिठा कर, दूर समंदर में ले जाऊ।

लहरें बनेंगी जो बलखाती, उन लहरों पर घर में बनाऊ।

कभी किनारा कभी समंदर, की मजधार में तुम को घुमाऊ।

कभी सीप में तुम संग छिप कर, कहीं दूर तक बहा चला जाऊ।

  1. कौन हो तुम Love Poem in Hindi

कितने मधु का सार लिए कितने रंगों को अपार लिए कौन हो तुम यौवन की कलि आँखों में सुन्हेरा ख्वाब लिए।

अनबन सी करती पलकें लिए लुकतीछुपती मुस्कान लिए कौन हो तुम महका सा गुलाब खुशबू का गाना संसार लिए।

आँखों में घनी मधुशाला लिए होटों पे रस का प्याला लिए कौन हो तुम पुष्पों की छठा सावन के मद का हाला लिए।

  1. लो तुमको उपहार में दूं Love Poem in Hindi

मुझ पंकज की जीवन संज्ञा वो सूरज की पहली किरणें, उन किरणों को संचित करके लो तुमको उपहार में दूं।

मुझ जलज की कोमल पंखुरी उनमें छुपके ओंस के मोती, उन मोती को संचित करके लो तुमको उपहार में दूं।

छिपे शंख सीप और मोती मेरे समुन्दर के अन्दर भी, अगर किनारा बन जाओ तो लो तुमको उपहार में दूं।

  1. इजहार प्रेम का Proposal Love Poem in Hindi 

इजहार प्रेम का कैसे करूँ मुझको ये आता ही नहीं, हाँ प्रेम मगर इतना ज्यादा अब और सहा जाता ही नहीं।

तुम्हे देख सखी एक ही पल में मैं सुध्बुद्ध अपनी खो बैठा। पर चाँद चकोरी से मिलने वो दिन क्यूँ आता ही नहीं।

तुम आँखों में जबसे हो बसी दिन चैन नहीं रत चैन नहीं, इस कमल से मिलने को कमली क्यूँ वक़्त कभी आता ही नहीं।

  1. वो महका गुलाब Love Poem in Hindi

वो महका गुलाब ख्यालों में आये, ख़्वाबों में आए वो महका गुलाब

वो खुशबू उड़ी क्या मधहोश हो गए, वो जुल्फों का तौबा झटक के गिराना।

वो बेहाल में दिल उनसे कहें क्या, वो चुनरी में उनका चेहरा छुपाना।

वो चंचल हसीना इधर रही है, वो चोखट पे उनकी पलके बिछाना।

  1. कमल Love Poem in Hindi with Lotus

इस कमल पर जब पड़ी सूरज की पहली किरण, जग उठी खोई तरंग बन के शायद कोई उमंग।

बज उठा मुझमे संगीत हवा बनने लगी थी गीत, इस कमल पर जब पड़ी सूरज की पहली किरण।

खिल गयी वो पंखुरी निर्जीव बनके थी पड़ी, इस कमल पर जब पड़ी सूरज की पहली किरण।

यूँ ही तिमिर में बंद था लगने लगा कोई रंग सा, इस कमल पर जब पड़ी सूरज की पहली किरण।

  1. जब चाँद खिले with Moon Love Poem in Hindi 

जब चाँद खिले कहीं घटा में और शावन की रुत बरसी जाए, कोई कैसे खुद को रोक ले आकर घटा में छिप जाए।

जब हलकीहलकी ब्यार में पागल खुशबू से मिल जाए, कोई कैसे खुद कोई रोक ले आकार घटा में छिप जाए।

कुछ सिरहन से उठती हो मन में जब हलके से कोई तन छू जाए, कोई कैसे खुद को रोक ले आकर घटा में छिप जाए।

  1. प्रेम संज्ञा Love Poem in Hindi

ज्ञानरहित मानसपटल में प्रेम ज्योति तुम बन कर आये, घोर अँधेरे में अब तक था उजियारा तुम ही हो लाये।

शुन्य दिशा में लटक रहा था विजन रहा में भटक रहा था, बनकर क्षितिज मेरे जीवन का मेरे दिशागोचर कहलाये।

विवश था मेरा तिनकातिनका संगीत था बेसुर मन का तन का, राग रहित तन्हा जीवन में सृजन हाँ तुम हो लाए।

आशाओं के गहरे सागर में प्यासा बन कर डूब रहा था, प्रेमज्ञान की संज्ञा तक तो प्रिया हाँ तुम ही हो लाये।

  1. क्यूँ Love Poem in Hindi

क्यूँ आज तुम्हारी आँखों में एक नूर दीवाना चमक रहा है, आशा की किरणे बिखरा कर एक प्रेम कहानी संवर रहा है।

विचलित मन में चंचल तिनके एक साज नया सा बना रहें हैं, तिनका तिनका सिमट सिमट कर एक घर प्यारा सा बना रहे हैं।

इन कोमल अधरों पर मानों कोई राग दीवाना थिरक रहा है, मुझको भी बतला दो ये क्यूँ मेरी धड़कन में सिमट रहा है।

  1. मुझे याद आयेगा Love Poem in Hindi 

वो चेहरे पे गहरी जुल्फों का शाया, वो बनके घटा अब बरसने को आया, मुझे याद आयेगा।

वो पलकें झुकाना झुका के उठाना, वो गुस्से में आँखों का

हये नजराना, मुझे याद आयेगा। वो चेहरे में जन्नत गुलाबों की रंगत,

तुम्हे देखकर मैंने मांगी थी मन्नत, मुझे याद आयेगा।

  1. यूँ ही Love Poem in Hindi

वो चली जाती है, मगर फिर भी रह जाती है यहींकहीं, वो मेरा कुछ ले जाती है, मगर ले जाती कुछ नहीं।

शराबी आँखों में डूबा झलक लूं ज़ाम की कोई, मेरी आँखों में वो अरमां यूँ बना जाती है कई।

कभी छलके मदिरा हँसी होटों से कहीं, ले उठा जाम के प्याले कदम बढ़ जाते हैं यूँ ही।

लाल रंग के गुलाबों से हसीं इन गाल पर क्यूँ री, गिराने रेशमी जुल्फें हाथ उठ जाते हैं यूँ ही।

  1. खुशबू प्यार की तेरे Love Poem in Hindi

ये हवा बावरी मुझे खोने लगी, खुशबू प्यार की तेरे मुझमें होने लगी।

क्यूँ ये रंग लाल सा किरणों में रहा, कुछ नयी सी उमंग दिल मेरा गा रहा, ये सुबह कुछ नयी फिर से होने लगी।

तू नहीं साथ है फिर भी तू पास है। क्यूँ तेरी याद में कुछ नया ख़ास है। रूह मेरी रंग में तेरे होने लगी।

  1. प्रेम Love Poem in Hindi

मैंने तुमसे निष्चल निस्वार्थ प्रेम किया कभी सूरज की पहली किरणों में कभी खिलते फूलों में कभी बारिश की बूंदों में।

तुम ही मेरे पास चल कर आई सूरज की पहली किरणे बन कर खिलते फूलों की खुशबू बन कर बारिश की बूंदें बन कर।

मैं बाहें फैलाये खड़ा रहा और तुम मुझे रंगती रही मेरी सांसों को महकाती रही मुझे भिगोती रही।

अब तुम जा रही हो बहुत दूरबहुत दूर मुझे रंगकर, महकाकर और भिगोकर।

  1. तन्हाईयां Love Poem in Hindi

आज हमें तन्हाईयां उदास करती है, आज हमनें लकीरों में तेरा चेहरा बनाया है।

अपने जज्बातों में सिमटकर छलकने को हैं आंखें, अपनी दर्दमोहब्बत में दिल तड़पाया है।

क्यूँ कहें वक़्त को सितमगर सितम किये हैं हजार, थोड़ी सी ख़ुशी दी क्या ग़म बरसाया है।

होंठ सीटें हैं मोहब्बत में आह भरभर कर, ‘ख़ामोशक्या कह सकेगा सिर्फ तेरा नाम आया है।

  1. मेरे कांधे पे तेरा दर्द Love Poem in Hindi

मेरे कांधे पे तेरा दर्द है, मैं गिरा भी नहीं सकता उठा भी नहीं सकता।

दुनिया कहती है के प्यार ना करो, मंदिर में दिया बनकर ग़र खुद को जला नहीं सकता।

राह में बैठा है ख़ामोश इस कदर कब तक बैठेगा, वापस ही आजा ग़र आगे जा नहीं सकता।

जलते सितारों को समझ देखो राख हो रहे हैं, राशनी दे नहीं सकता गर तो बुझा भी नहीं सकता।

  1. नींद गयी सब Love Poem in Hindi

नींद गयी सब चैन गया सब तुम से बिछड़ कर रैन गया सब, सपनों की रंगी चादर पर कला रंग सा कोई मिल गया अब।

वो वक़्त का उजला चंदा सा सुबह की रंगी किरणें सी, बस प्यार की छाया प्यार का दर्पण पलकों के पीछे रह गया अब।

वो महकी जुल्फें और खोई आंखें कैसे भूलूँ मैं वो लम्हें, कुछ चंद टुकड़े कुछ चंद यादें होठों पे बसकर रह गया अब।

  1. एक गुलाब Love Poem in Hindi

एक गुलाब मैंने भी अपने सीने में छुपा रखा है, मेरी यादों को, मेरे सपनों को जिसने महका रखा है।

पूनम की रात में मैं भी बैठा था, यूँ ही एक पत्थर पर, वो पत्थर अभी तक अपने बगीचे में दबा रखा है।

Video on Love Poem in Hindi:-

https://youtu.be/bwCqWUmu6pk

Thank you for reading my Love poem in Hindi I’m sure you love it. These top 20 poems are very romantic and full of emotion you can share these poems with your love and you can also suggest these poems to your friends.

Related:-

To Know Some Great Stuff Do Visit StatusKDuniya

To Know Some Great Stuff Do Visit TallestClub

To Know Some Great Stuff Do Visit TechnicalWidget